Bewafa Shayari: Top 100+ Heart Broken Heart Collection

Bewafa Shayari  is here for you. You will get here all about life,Bewafa Shayari. Some people search for Latest for update their whatsapp Bewafa Shayari wall and to share with their whatsapp friends. But they can not get good as want they want. For those people, i have posted some Bewafa Shayari for whatsapp.

So here i have written Bewafa Shayari. All Bewafa Shayari very creative and related to life. You will get many on internet in english about life..

Dard Bhari Bewafa Shayari

यार एक बात पूछूं हमें उस से ही
प्यार क्यों होता है जिसका मिलना
हमारी किस्मत में नहीं होता!!
yaarek bat puchoon hame usse he
pyar kyon hota hai jiska milna
hamare kismat mein nahi nhota!!

हमने भी किसी से प्यार किया था
हाथो में फूल लेकर हमने भी किसी
का इंतजार किया था भूल उनकी
नहीं भूल तो हमारी है अरे प्यार
उन्होंने थोड़ी प्यार तो हमने किया था

hamne bhe kise se pyar kiya tha
hatho mein phul lekar hamne bhe kise
ka intazar kiya tha bhul unke
nahin bhul to hamare hai are pyar
unhone thode pyar to hamne kiya tha

Bewafa Shayari 2020

मुझे बहोत प्यारी है तुम्हारी दि हुई हर एक निशानी,
चाहे वह दिल का दर्द हो या आँखो का पानी!

mujhe bahot pyare hai tumhare di hue har ek nishane,
chahe woh dil ka dard ho ya ankho ka pane!

इस दुनिया में मोहब्बत कि तक़दीर बदलती हे,
शीशा तो वोही रहता हे पर तस्वीर बदलती हे.

is duniya mein mohabat ki taqder badaltee he,
shesha to wohe rahata he par tasveer badaltee he.

BewafaShayari Hindi mai

हम तो जल गये उस की मोहब्बत
में मोम की तरह…
अगर फिर भी वो हमें बेवफा कहे
तो उसकी वफ़ा को सलाम…

ham to jal gaye us kee mohabbat
mein mom kee tarah…
agar phir bhe woh hamen bewafa kahe
to uske wafa ko salam…

लगता है बारिस की कोई साजिश
हुई है
जाहा माटी का घर था वही बारिस
हुई है

lagta hai baris ke koe sajish
hue hai
jaha mate ka ghar tha wahe baris
hue ha

अच्छा सिला तूने मुझे दिखा दिया,
मैंने तुझे अपना समझा और तूने ही
रुला दिया

acha sila tune mujhe dikha diya,
maine tujhe apna samjha aur tune hee
rula diya

Heart Broken Bewafa Quotes and Shayari

उन्हें तो खुदा भी बक्स देता
जिनकी किस्मत खराब होती हैं वो
हरगिज नहीं बक्से जाते जिनकी
नियत खराब होती है!!

unhen to khuda bhe baks deta
jinkee kismat kharab hote hain wo
hargij nahin bakse jate jinke
niyat kharab hote hai!!

मर रहा था तेरी याद में घुट घुट कर
आई नहीं एक बार भी लौट कर
आज ढूंढ रही हो मेरी कब्र खोदकर!!

mar raha tha tare yaad mein ghut ghut kar
aye nahin ek bar bhe laut kar
aj dhondh rahe ho mare kabr khodkar!!

उसने हमशे हमारी दोस्ती चाही
उसने हमशे हमारी दोस्ती चाही
पर हमे उससे मोहब्बत हो गई
फिर क्या
हम अपने मौत की वजह खुद बन गये!!

usne hamshe hamare doste chahe
usne hamshe hamare doste chahe
par hame usse mohabbat ho gaee
phir kya
ham apne maut kee wajah khud ban gaye!!

Dard Bhari Bewafa Shayari

मुझको तुम पर बरोसा था
मुझको तुम पर बरोसा था
वोभी तुमने तोड़ दिया
तु खुश है गेर की बाहो में
मुझको तड़फता छोड़ दिया!!

mujhko tum par bharosa tha
mujhko tum par bharosa tha
wobhe tumne tod diya
tu khush hai ger kee baaho mein
mujhko tadaphta chhod diya!!

एक फूल बहुत अजीब था
वो कभी मेरे दिल के करीब था
जब चाहने लगे उसे हद से भी जादा
तो पता चला वो हमसे भी जादा
किसी और के करीब था!!

ek phul bahut ajeb tha
woh kabhe mare dil ke kareb tha
jab chahane lage use had se bhe jada
to pata chala wo hamse bhe jada
kise aur ke kareb tha!!

बिन बात के ही रूठने की आदत
है सच कहो तो किसी अपने की
चाहत है,
आप खुश रहे मेरा किया है में तो
आईना हूं मुझे तो टूटने की आदत है!!

bin bat ke he rothne ke adat
hai sach kaho to kise apane ke
chahat hai,
ap khush rahe mera kiya hai mein to
ayna hoon mujhe to tutne ke adat hai!!

Bewafa Shayari for BreakUp

दिल से खेलना हमें आता नहीं
इसलिए इश्क की बाजी हम हार
गए मेरी जिंदगी से बहुत प्यार था
शायद उन्हें इसलिए जाते-जाते
हमें जिंदा ही मार गए!!

dil se khelna hamen ata nahin
islie ishk ke bae ham har
gae mer jindage se bahut pyar tha
shayad unhen islie jate-jate
hamen jinda hee maar gae!!

टूटा हो दिल तो दुःख होता है
करके मोहह्बत ये दिल रोता है
दर्द का एहसास तो तब होता है आपको
जब किसी से मोहह्बत हो और
उसके दिल में कोई और होता है!!

tuta ho dil to dukh hota hai
karke mohabbat ye dil rota hai
dard ka ehasas to tab hota hai aapako
jab kise se mohabbat ho aur
uske dil mein kee aur hota hai!!

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी!!

tera khyal dil se mitaya nahin abhe,
bewafa mainne tujhko bhulaya nahin abhe!!

किसी शायर ने कहा था
मोहब्बत ना करना
लेकिन हो जाए तो
इंकार भी ना करना
निभा सको तो ही
मोहब्बत करना
वरना किसी की
जिंदगी बर्बाद मत करना!!

kise shayar ne kaha tha
mohabbat na karana.
lekin ho jae to
inkaar bhe na karana
nibha sako to hee mohabbat karana
varna kise ke
jindage barbad mat karna!!

Bewafa Shayari in Hindi for Love

आगोश-ए-सितम में छुपाले कोई,
तन्हा हूँ तड़पने से बचा ले कोई,
सूखी है बड़ी देर से पलकों की जुबां,
बस आज तो जी भर के रुला दे कोई!!

agosh-e-sitam mein chhupale koee,
tanha hoon tadpane se bacha le koe,
sokhe hai bade der se palkon kee juban,
bas aaj to jee bhar ke rula de koe!!

मत फेंक पानी में पत्थर उसे भी
कोई पीता होगा
मत हो जिंदगी में उदास तुम्हें
भी कोई देखकर जीता होगा!!

mat phenk pane mein patthar use bhee
koee peta hoga
mat ho jindagee mein udaas tumhen
bhee koee dekhkar jeeta hoga!!

मज़बूरी में जब कोई जुदा होता है,

मज़बूरी में जब कोई जुदा होता है,
ज़रूरी नहीं कि वो बेवफ़ा होता है,
देकर वो आपकी आँखों में आँसू,
अकेले में आपसे ज्यादा रोता है!!

mazbore mein jab koe juda hota hai,
zarore nahin ki woh bewafa hota hai,
dekar woh aapkee aankhon mein aansoo,
akele mein aapse jyaada rota hai!!

प्यार कर के कोई जताए ये ज़रूरी तो नहीं,
याद कर के कोई बताये ये ज़रूरी तो नहीं,
रोने वाले तो दिल में ही रो लेते हैं अपने,
कभी आँख में आसूं आये ये ज़रूरी तो नहीं!!

pyar kar ke koe jatae ye zarore to nahin,
yaad kar ke koe bataye ye zarore to nahin,
rone wale to dil mein hee ro lete hain apne,
kabhe aankh mein aason aaye ye zarore to nahin!!

कुछ पाने की चाह में सब कुछ पीछे छूट जाता है।
नदी का साथ देता हूँ तो समुंदर रूठ जाता है
प्यार तो करना सभी जानते है मगर
प्यार को निभाने मे बड़ो – बड़ो की पसीना
छूट जाता है!!

kuch pane ke chah mein sab kuch peche chot jata hai.
nade ka sath deta hoon to samundar rooth jata hai
pyar to karna sabhe janate hai magar
pyar ko nibhane me bado – bado kee pasena
chhot jata hai!

Bewafa Shayari in Hindi for GirlFriend

यूं ना मुझे देख कर मुस्कुराया करो तुम ,
यूं ना मुझे देख कर मुस्कुराया करो तुम,
खुद तो मुस्कुरा कर चली जाती हो,
बाद में तुम्हारी हंसी सोच कर रोते हैं हम!!

yon na mujhe dekh kar muskuraya karo tum ,
yon na mujhe dekh kar muskuraya karo tum,
khud to muskura kar chale jate ho,
bad mein tumhare hanse soch kar rote hain ham!!

वाह रे ख़ुदा
ये कैसी तेरी खुदायी है
जो सच्चा प्यार किया है
उसी के साथ लड़ाई है!!

vah re khuda
ye kaise tare khudaye hai
jo sacha pyar kiya hai
usee ke sath ladae hai!!

है सनम किसी से प्यार मत करना,
हो जाये तो इंकार मत करना,
निभा सको तो निभा दे नही तो
किसी का जिंदगी बर्बाद मत करना!!

hai sanam kise se pyar mat karna,
ho jaye to inkar mat karna,
nibha sako to nibha de nahe to
kise ka jindage barbad mat karna!!

तू ही बता दिल तुझे समझाऊं कैसे,
जिसे चहता है तू उसे नजदीक लाऊं कैसे,
यूँ तो हर तमन्ना हर एहसास है वो मेरा,
मगर उसको ये एहसास दिलाऊं कैसे!!

too he bata dil tujhe samajhaon kaise,
jise chahata hai too use najdek laon kaise,
yoon to har tamanna har ehasas hai vo mera,
magar usako ye ehasas dilaon kaise!!

Bewafa Shayari in Hindi

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया,
आपने दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया,
हम तो बैसे भी अकेले थे इस दुनिया में,
क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया!!

ho sakta hai hamne aapko kabhe rula diya,
aapne duniya ke kahane pe hamen bhula diya,
ham to waise bhe akele the is duniya mein,
kya hua agar aapne ehasas dila diya!!

Bewafa Sad Shayari

देख कर तुमको अक्सर हमें
ये एहसास होता है,
कभी कभी गम देने वाला भी
कितना ख़ास होता है!!

dekh kar tumko aksar hamen
ye ehasas hota hai,
kabhe kabhe gam dene wala bhe
kitna khas hota hai!!

किसी ने हमें रुलाया तो क्या बुरा किया,
​​दिल को दुखाया तो क्या बुरा किया​,
​​हम तो पहले से ही ​तन्हा थे​,
​किसी ने एहसास दिलाया तो क्या बुरा किया!!

kisee ne hamen rulaya to kya bura kiya,
dil ko dukhaya to kya bura kiya,
ham to pahale se hee tanha the,
kise ne ehasas dilaya to kya bura kiya!!

उनका हाल भी कुछ आप जैसा ही होगा,
आपका हाले दिल उन्हें भी महसूस होगा,
बेकरारी की आग में जो जल रहे हैं आप,
आपसे ज्यादा उन्हें इस जलन का एहसास होगा!!

unka haal bhee kuchh aap jaisa hee hoga,
apka hale dil unhen bhee mahasus hoga,
bekarare kee aag mein jo jal rahe hain aap,
apse jyada unhen is jalan ka ehasas hoga!!

ये जब एहसास हो जाए,
कि दूरी अब दिलों में है,
मरासिम लाख गहरे हो,
पर रिश्ते टूट जाते हैं!!

ye jab ehasas ho jae,
ki doree ab dilon mein hai,
marasim lakh gahare ho,
par rishte tut jate hain!!

Bewafa Shayari hindi mai

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता
इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता
ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता
के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता!!

tute hue pyale mein jam nahin ata
ishq mein marej ko aram nahin aata
ye bewafa dil todne se pahale ye soch to liya hota
ke tuta hua dil kise ke kam nahin ata!!

दिल में तू नहीं मग़र तेरा निशां बाक़ी है
बुझ गयी आग मोहब्बत की धुआँ बाक़ी है
जिस जगह हमने कैलैंडर में जुदाई लिखी
एक मुलाक़ात की तारीख़ वहाँ बाक़ी है
मैं तेरे बेवफ़ा होने से परेशां नहीं
दिल लगाने को अभी सारा जहां बाक़ी है।।

dil mein to nahin magar tera nishan baki hai
bujh gaye ag mohabbat kee dhuan baki hai.
jis jagah hamane kailaindar mein judae likhe
ek mulaqat ke tarekh vahan baki hai.
main tere bewafa hone se pareshan nahin
dil lagane ko abhe sara jahan baki hai..

जहा याद ना आऐ तेरी वो तन्हाई किस काम की
बिगड़े रिस्ते ना बने तो खुदाई किस काम की
बेसक अपनी मंजिल तक जाना है हमे
लेकिन जहा से आप न दिखे वो अच्छाई
किस काम कि

jaha yaad na ai tere wo tanhae kis kam kee
bigde riste na bane to khudae kis kam ke
besak apnee manjil tak jana hai hame
lekin jaha se aap na dikhe wo achaee
kis kaam ki

कोई अनजान जब अपना बन जाता है,
ना जाने क्युँ वो बहुत याद आता है,
लाख भुलाना चाहो उस चेहरे को मगर,
अकस उसका हर चीज़ में नज़र आता है..

koee anjan jab apna ban jata hai,
na jane kyun wo bahut yad ata hai,
lakh bhulana chaho us chehare ko magar,
akas usaka har cheez mein nazar aata hai..

Bewafa Shayari for Boy

तू लाख भुला के देख मुझे,
मैं फिर भी याद आऊंगा,
तू पानी पी पी के थक जाएगी,
मैं हिचकिया बन बन के सताऊंगा..

tu lakh bhula ke dekh mujhe,
main phir bhe yad aunga,
tu pane pee pee ke thak jaege,
main hichkiya ban ban ke sataunga..

इन आंखो मे आंसू आये न होते,
अगर वो पीछे मुडकर मुस्कुराये न होते,
उनके जाने के बाद बस यही गम रहेगा,
कि काश वो हमारी ज़िन्दगी मे आये न होते..

in ankho me aansu aaye na hote,
agar woh pechhe mudkar muskuraye na hote,
unke jane ke baad bas yahe gam rahega,
ki kash woh hamaee zindagee me aaye na hote..

इंतेज़ार रहता है हर शाम तेरा,
रातें काट ते है ले ले के नाम तेरा,
मुद्दत से बैठी हू ये आस पाले,
शायद अब आ जाए कोई पैगाम तेरा..

intezar rahata hai har sham tera,
raten kaat te hai le le ke nam tera,
muddat se baithe huye aas paale,
shayad ab aa jae koe paigam tera..

इंतज़ार तो हम भी किया करते हैं,
आपसे मिलने की आस किया करते हैं,
मेरी याद हिचक़ियो की मोहताज़ नही,
हम तो आपको सांसो से याद करते हैं..

intazar to ham bhe kiya karte hain,
apse milne kee aas kiya karte hain,
mere yaad hichqiyo kee mohataaz nahe,
ham to aapko sanso se yaad karte hain..

हकीक़त कहो तो उनको ख्वाब लगता है,
शिकायत करो तो उनको मजाक लगता है,
कितने सिद्दत से उन्हें याद करते है हम,
और एक वो है, जिन्हें ये सब इत्तेफाक लगता है..

hakeqat kaho to unko khwab lagta hai,
shikayat karo to unko majak lagta hai,
kitne siddat se unhen yaad karte hai ham,
aur ek woh hai, jinhen ye sab ittephak lagta hai..

Latest Bewafa Shayari

मोहब्बत ऐसी थी के बतायी न गयी,
चोट दिल पर थी इसलिए दिखाई न गयी,
चाहते नहीं थे उनसे दूर रहना,
दूरी इतनी थी उनसे के मिटायी न गयी।

mohabbat aise the ke batayee na gayee,
chot dil par the islie dikhae na gayee,
chahate nahin the unse dur rahana,
dure itne the unse ke mitaye na gaye.

खुश नसीब होते हैं वो बादल,
जो दूर रहकर भी जमीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी मिलने को तरसते है

khush naseb hote hain woh badal,
jo dyr rahakar bhe jameen par baraste hain,
aur ek badnaseb ham hain,
jo ek hee duniya mein rahakar bhee milane ko taraste hai

अपनी वो मुलाकात कुछ अधुरी सी लगी,
पास होके भी थोडी दूरी सी लगी,
होठो पे हसी आंखो मे मजबूरी सी लगी,
ज़िन्दगी मे पहेली बार किसी की दोस्ती इतनी ज़रूरी लगी..

apne woh mulakat kuch adhure see lage,
pas hoke bhe thode dure see lage,
hotho pe hase aankho me majbore see lage,
zindage me pahelee baar kise ke doste itane zaroree lage..

तेरे लिए खुद को मजबूर कर लिया,
जख्मो को अपने हमने नासूर कर लिया,
मेरे दिल में क्या था ये जाने बिना,
तूने खुद को हमसे कितना दूर कर लिया।

tere lie khud ko majbor kar liya,
jakhmo ko apne hamne nasoor kar liya,
mere dil mein kya tha ye jane bina,
tune khud ko hamersa kitna dur kar liya.

दूर रहना आपका हमसे सहा नहीं जाता

दूर रहना आपका हमसे सहा नहीं जाता,
जुदा हो के आपसे हमसे रहा नहीं जाता,
अब तो वापस लौट आईये हमारे पास ,
दिल का हाल अब किसी से कहा नहीं जाता।

dur rahana aapka hamse saha nahin jata,
juda ho ke aapse hamse raha nahin jaata,
ab to wapas laut aiye hamare pas ,
dil ka haal ab kise se kaha nahin jaata.

ये जो तुमसे दूरी हुई,
जीना जैसे एक मजबूरी हुई,
लो आज फिर से मैं अधूरी हुई।

ye jo tumse dure hue,
jena jaise ek majbure hue,
lo aj phir se main adhure hue.

New Bewafa Shayari

खाए है लाखो धोखे,
एक धोखा और सेलेंगे.
तू लेजा अपनी डोली को,
हम अपनी अर्थी को बारात कह लेंगे..

khae hai lakho dhokhe,
ek dhokha aur selenge.
tu leja apne dole ko,
ham apnee arthe ko barat kah lenge..

किसी ने कहा था किसी से ना
कहना लगे चोट दिल पर जो
खामोश ही रहना सुनेगा जो तुम
पर हंसेगा का जमाना

Kise ne kaha tha kise se na
kahana lage chot dil par jo
khamosh hee rahana sunega jo tum
par hansega ka jamana

मेने तो अपने होंठों की हर खुशी उसके नाम कर दि थी,
मेनै तो अपने हिस्से की जमीन उसके लिए नीलाम करदी थि,
क्या दे गई बेवफा मुझे जाते-जाते,
मैंने तो अपनी जिंदगी उसके नाम करदी थी

mene to apne honthon kee har khushee uske nam kar di thee,
menai to apne hisse kee jamen uske lie nelam kardee thi,
kya de gae bewafa mujhe jate-jate,
maine to apne jindage uske nam karde thee

कास मैं दरिया होता तो किनारो का सहारा करता
इस तरह नहीं रोता अगर तुझसे दिल लगाया होता

kas main dariya hota to kinaro ka sahara karta
is tarah nahin rota agar tujhse dil lagaya hota

बहुत रुलाई वो बेवफा और कितना रुलावगी,
जिस दिन हम रूठे ना बहुत पस्तावोगी

bahut rulae woh bewafa aur kitna rulayege,
jis din ham rothe na bahut pastayege

मुझे इस बात गए गम नहीं
कि तू बेवफा निकली
अफ़सोस तो इस बात का है कि
वो लोग सच्चे निकले जिनसे मैं
तेरे लिए लड़ा करता था। ……

mujhe is bat gae gam nahin
ki too bewafa niklee
afsos to is baat ka hai ki
woh log sach nikle jinse main
tere lie lada karta tha. ……

उन्हें बेवफा जो बोलो
तो तोहिन है वफ़ा की ,
वो तो वफ़ा निभा रहे है
कभी इदर तो कभी उदर

unhen bewafa jo bolo
to tohin hai wafa kee ,
woh to wafa nibha rahe hai
kabhe idar to kabhe udar

Related Post:

Leave a Comment